खेलो इंडिया गेम्स में खेलने वाले युवा देश को दिलाएंगे मेडलः खेलमंत्री

केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू, छह बार की विश्व चैंपियन महिला मुक्केबाज एमसी मैरी कोम और स्पाइसजेट के चेयरमैन अजय सिंह ने खेलो इंडिया गेम्स के लिए खिलाड़ियों को पहली स्पाइसजेट फ्लाइट से बुधवार को रवाना किया। उभरते हुए एथलीटों के लिए खेलो इंडिया को विश्वस्तरीय खेल आयोजन जैसा महसूस कराने के लिए भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) ने स्पाइसजेट के साथ करार किया है, जिससे कि 1000 से अधिक बच्चों को आसमान में उड़ान की खुशी दी जा सके।

तीसरे खेलो इंडिया यूथ गेम्स में हिस्सा ले रहे खिलाड़ियों को यूनीक फ्लाइंग एक्सपीरिएंस देने के लिए स्पाइसजेट ने खेलो इंडिया से आधिकारिक ट्रेवल पार्टनर के तौर पर हाथ मिलाया है। खेलो इंडिया यूथ गेम्स के तीसरे संस्करण का आयोजन 10 से 22 जनवरी तक असम की राजधानी गुवाहाटी में होना है। रिजिजू ने खिलाड़ियों को रवाना करने के बाद कहा, ‘खेलो इंडिया ने एसे युवा प्रतिभाओं को आगे लाने में अग्रणी रहा है, जो आने वाले वक्त में देश के लिए पदक जीतेंगे। इस खेल आयोजन के माध्यम से जमीनी स्तर पर खिलाड़ियों को विश्वस्तरीय सुविधाएं मुहैया कराना है। मुझे आशा है, यह साझेदारी खिलाड़ियों को श्रेष्ठ सम्भव सुविधाएं देने की हमारी प्रतिबद्धता को और मजबूत करेगा।’

मैरी कोम ने कहा, ‘मेरे करियर के शुरुआती दिनों में मुझे एक पेयर ग्लब्स खरीदने के लिए भी संघर्ष करना होता था। यह देखकर अच्छा लग रहा है कि भारतीय खेल काफी आगे गया है। इस बच्चों को शानदार फ्लाइंग एक्सपीरिएंस पर जाते हुए देखकर काफी अच्छा लग रहा है।’ 13 दिनों तक चलने वाला खेलो इंडिया यूथ गेम्स में 35 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के खिलाड़ियों के बीच 20 खेलों में प्रतिस्पर्धा होगी। खिलाड़ियों को कोई दिक्कत न हो इसके लिए स्पाइसजेट ने उन्हें निर्धारित क्षमता से अधिक वजन का सामान ले जाने और अंतिम मिनट में कैंसिलेशन और रिप्लेसमेंट की अनुमति दी है। साथ ही खिलाड़ियों को इन-प्लाइट मील (खाना) भी मुफ्त में मुहैया कराया जाएगा। स्पाइसजेट दिल्ली से गुवाहाटी और कोलकाता से गुवाहाटी सेक्टरों पर बुधवार और 14 तथा 15 जनवरी को आठ डेडिकेटेड फ्लाइट्स का संचालन करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2567579total sites visits.