Prakash veg

Latest news uttar pradesh

आज का सुविचार: चाणक्य के अनुसार इन कारणों से जीवन में आता है बुरा वक़्त

1 min read

चाणक्य भारत के श्रेष्ठ विद्वानों में से एक हैं. आचार्य चाणक्य ने विभिन्न विषयों की शिक्षा ग्रहण की थी। चाणक्य ने समाज को प्रभावित करने वाली चीजों का बहुत ही गहराई से अध्ययन किया था। चाणक्य ने अपने ज्ञान और अनुभव से जो भी जाना और समझा उसे अपनी चाणक्य नीति में दर्ज किया। यदि कोई व्यक्ति चाणक्य नीति में बताई गई बातों का पालन करता है तो वह अपने जीवन को सफल बना सकता है। इसी प्रकार आचार्य चाणक्य ने वक्तियों के लिए कुछ ऐसी स्थितियां बताई हैं, जिसके होने पर उनकी किस्मत वाकई में खराब हो सकती है।

  • आचार्य चाणक्य के अनुसार, यदि किसी आदमी की पत्नी जवानी में मर जाती है तो वह दूसरा विवाह करके जीवन बिता सकता है, लेकिन बुढ़ापे में पत्नी का मरना उसके दुर्भाग्य का कारण बनता है।
  • आचार्य चाणक्य के अनुसार, यदि कोई पुरुष किसी दूसरे पर निर्भर रहता है तो उसका जीवन नर्क के समान रहता है वह कभी भी अपनी आजादी प्राप्त नहीं कर सकता है। दूसरों पर निर्भर रहने वाले व्यक्ति की किस्मत खराब मानी जाती है।
  • अगर कोई व्यक्ति पैसे को व्यर्थ में खर्च कर रहा है तो उसे पैसे के महत्व के बारे में नहीं पता है। ऐसे व्यक्ति स्वभाव से झगड़ालू होते हैं और स्त्रियों को परेशान करने वाले होते है।
  • मनुष्य के अंदर कुछ गुण स्वंय से उत्पन्न होते हैं। जैसे दान करना, मीठी बातें करना, लोगों की सेवा करना, समय पर सही-गलत का निर्णय लेना। इसे कहीं और से नहीं सीखा जा सकता है।
0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.